Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 21 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

नोटिस के माध्यम से दुष्यंत-दिग्विजय को दबाना चाहते हैं कुछ लोग : नैना चौटाला

उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के मंसूबे पूरे नहीं होने देगी प्रदेश की जनता.

Through the notice, Dushyant Chautala, Digvijaya Chautala, Naina Chautala, Ajay Chautala, Abhay Chautala, Om Prakash Chautala, Gagasena, Gharonda, Karnal, naya haryana, नया हरियाणा

28 अक्टूबर 2018

नया हरियाणा

दुष्यंत व दिग्विजय चौटाला पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए पिछले पांच वर्षों से प्रदेश की गली-गली में जाकर पसीना बहा रहे हैं परन्तु कुछ लोगों को उनकी मेहनत अखर रही है और वे उन्हें नोटिस दिलवा कर दबाना चाहते हैं, परन्तु हरियाणा की जनता के साथ और आशीर्वाद के  चलते किसी तरह का दबाव का प्रयास सहन नहीं किया जाएगा। यह बात डबवाली से विधायक नैना सिंह चौटाला ने कही।
 वे रविवार को यहां गगसिना में आयोजित हरी चुनरी की चौपाल कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता बोल रही थी। उन्होंने कहा कि मैंने दुष्यंत को जन्म अवश्य दिया है परन्तु हरियाणा की जनता ने दुष्यंत व दिग्विजय को संभाला है, उन्हें सिखाया, संवारा है और हर पल उनका साथ देकर आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया है। 
इनेलो विधायिका ने कहा  डा. अजय सिंह चौटाला ने 40 वर्षों तक दिन-रात पार्टी के लिए पसीना बहा कर मजबूती प्रदान की है। उन्होंने रायमलिकपुर से लेकर चंडीगढ़ तक पैदल चल कर गांव-गांव जाकर लोगों को पार्टी से जोड़ा है और पार्टी को ताकत दी।  डबवाली की विधायिका ने कहा कि स्व. चौ. देवीलाल के चरणों में बैठकर राजनीति सीखने वाले डा. अजय सिंह चौटाला ने ताऊ की नीतियों को हर-जन और हर घर तक पहुंचाया है, उनके कठिन परिश्रम और संगठित करने की अदभुत क्षमता को न तो भुलाया जा सकता और न ही दरकिनारा किया जा सकता। 
प्रदेश का बच्चा-बच्चा अजय सिंह चौटाला के चार दशक के कठिन परिश्रम और योगदान से वाकिफ है। नैना चौटाला ने पार्टी में चल रही उठा-पठक को लेकर कहा कि कुछ ही दिनों में डा. अजय सिंह चौटाला जेल से बाहर आएंगे और उनके फैसले पर प्रदेश की जनता की निगाहें टिकी हुई हैं तथा उनका फैसला मंजूर होगा।
नैना चौटाला ने कहा कि चौ. ओमप्रकाश चौटाला जी संगठन और परिवार के मुखिया हैं, उनका नेतृत्व और दिशा-निर्देश हमें सदा मंजूर है और हमेशा रहेगा। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी ताऊ स्व. देवीलाल जी का लगाया हुआ एक वटवृक्ष है और कुछ लोग पार्टी को दीमक की तरह खा कर खोखला करना चाहते हैं, उनके मंसूबे प्रदेश की जनता किसी भी सूरत में पूरे नहीं होने देगी। 
उन्होंने उपस्थित कार्यकर्ताओं से अपील करती आप सभी चौटाला साहब के नेतृत्व और दिशा-निर्देश को हमेशा मान-सम्मान दें और दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला को अपना आशीर्वाद देकर पार्टी संगठन को मजबूती प्रदान करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर वह आप माताओं-बहनों और सरकार के बीच वकील का काम करूंगी और आपकी हर समस्या को हल करवाने की जिम्मेवारी उनकी होगी। 
सरकार पर भी बरसी नैना चौटाला
विधायिका नैना चौटाला ने सरकार को जमकर घेरा और कहा कि सरकार चलाना भाजपा के बस की बात नहीं है, प्रदेश में रोडवेज कर्मचारी अपनी जायज मांगों को लेकर पिछले दो सप्ताह से हड़ताल पर हैं और सरकार अपनी हठधर्मिता पर अड़ी हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार की जिद्द और अडिय़ल रवैये के चलते प्रदेश की जनता परेशान है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ और बेटी बचाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के राज में बच्चियां और महिलाएं असुरक्षित हैं। करनाल के गांवों की हर सड़क टूटी है और जर्जर हालत में है। 
इस अवसर पर महिला विंग की प्रदेशाध्यक्ष शीला भ्याण, जिला प्रधान प्रकाश कौर,विधायक अनूप धानक, पूर्व विधायक नरेंद्र सांगवान, कार्यक्रम प्रभारी राजेंद्र लितानी, पूर्व विधायक रमेश खटक, कार्यक्रम के आयोजक व गगसिना के सरपंच जगरूप संधू, मोहसिन चौधरी, राजीव पाटा, हरिसिंह संधू, जयप्रकाश कंबोज, मेहम सिंह राजोपुर, हरिसिंह संधू, जयप्रकाश कंबोज, राजपाल कैमला,गुरदेव रंबा, भीम मड़ान, प्रेम शारपुर, एडवोकेट संतोष यादव, रविंद्र संधू, रमेश सिद्धपुर, भीम जलाला, जसबीर गगसिना, सुरेंद्र, विजेंद्र,  संडाना नैन, नरेंद्र कौर, सुमरे कंबोज, रिषी ज्याणी, अमन चावला, इंद्रजीत गोल्डी, सतीश कुटैल, धर्मवीर खरकली, विनोद रायपुर, सुमित सैबला, संदीप दहिया सहित भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी।
 


बाकी समाचार