Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 14 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

रोडवेज कर्मचारी हड़ताल पर लेडी कंडक्टर ने संभाली कमान

सिरसा और रेवाड़ी में दो महिला कंडक्टरों ने थामा झोला, भीड़ में घुसकर भी काटी टिकटें

Roadways employee strike, Lady conductor, Haryana government, Chief Minister Manohar Lal, Transport Minister Krishna Lal Panwar, naya haryana, नया हरियाणा

28 अक्टूबर 2018

नया हरियाणा

हरियाणा रोडवेज की हड़ताल जारी है और रोडवेज की हड़ताल के बाद अब बड़े स्तर पर परिवहन विभाग में भर्तियां की जा रही है। इसी कड़ी में अब हरियाणा के दो अलग-अलग जगहों पर महिला कंडक्टरों ने झोला थाम लिया है, और दोनों ने अपने अपने रुटों पर भीड़ में घुसकर भी टिकटें काटने का काम किया.  सिरसा के खंड ऐलनाबाद के गांव खारी सुरेरा की निर्मला ने सिरसा डिपो में रोडवेज का झोला थाम लिया है। आज निर्मला ने हरियाणा रोडवेज की बस में ड्यूटी ज्वाइन की और उसे खुद के सिरसा से ऐलनाबाद रुट पर ही भेजा गया। महिला परिचालक भी अपनी ड्यूटी लगने के बाद काफी खुश नजर आई।

<?= Roadways employee strike, Lady conductor, Haryana government, Chief Minister Manohar Lal, Transport Minister Krishna Lal Panwar; ?>, naya haryana, नया हरियाणा

उधर रेवाड़ी में भी एक महिला परिचालक ने अपनी ड्यूटी संभाल ली है। यहां पर खलीलपुर गांव की रहने वाली दो बेटियों की मां 32 वर्षीय शर्मिला ने रोडवेज की बस में परिचालक की ड्यूटी ज्वाइन की है। आज पहले दिन शर्मिला ने सिटी बस सेवा में बतौर परिचालक यात्रियों के टिकट काटे।

सोशल मीडिया पर हो रहा है ये मैसेज वायरल

सरकार और रोडवेज यूनियन के बीच टकराव बना हुआ है। इस बीच इस बात की चर्चा भी हो रही है कि क्या हड़ताल बेअसर हो गई है। ऐसी चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि हड़ताल के बावजूद सड़कों पर रोडवेज के बस चल रहे हैं। और हर दिन इन संख्या बढ़ती जा रही है। हड़ताल के शुरुआत में यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था तो वहीं अब बस डिपो पर बसें मिलने से यात्रियों की परेशानी काफी कम हो गई है। पूरे हरियाणा में रोडवेज की 60 फीसदी से ज्यादा बसें चल रही हैं। ज्यादा से ज्यादा बसें चले इसके लिए हरियाणा सरकार ने ऐड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है जिससे हर दिन हड़ताल का असर कम होता जा रहा है। जबकि रोडवेज के नेता ये मान कर चल रहे थे कि हड़ताल के असर से हरियाणा सरकार जल्द ही धुटने टेक देगी। लेकिन हुआ इसका उल्टा। हड़ताल के बेअसर हो जाने से हड़ताली कर्मचारी और नेता काफी मायूस देखे जा रहे हैं।


बाकी समाचार