Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 19 दिसंबर 2018

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

चार सौ से अधिक सेवाएं एक जगह देने वाला पहला राज्य बना हरियाणा : मनोहर लाल

राज्य की इस उपलब्धि से प्रभावित होकर देश के कई राज्यों को भी इस मॉडल में रुचि बढ़ी है.

More than four hundred services, the first state of Haryana, Chief Minister Manohar Lal, Finance Minister Capt Abhimanyu, 18 khand ko saksham ghoshit kiya, Shivdhaman Renewal Scheme, Good Governance Associates, naya haryana, नया हरियाणा

2 अक्टूबर 2018

नया हरियाणा

हरियाणा जिला मुख्यालय उपमंडल और तहसील स्तरीय केंद्रों सहित एकल मंच और सभी नागरिक केंद्रों पर 400 से अधिक सेवाएं व योजनाएं प्रदान करने वाला पहला राज्य बन गया है। राज्य की इस उपलब्धि से प्रभावित होकर देश के कई राज्यों की अंत्योदय सरल मॉडल में रुचि बढ़ रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आयोजित मुख्यमंत्री के सुशासन असोसिएट्स की बैठक में यह जानकारी दी गई।
 वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु और मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉक्टर राकेश गुप्ता भी बैठक में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑनलाइन सुविधा केंद्र हैं, जिन्हें लाभ लाभानुपयोगी की विभागीय आवाजाही को कम करने के लिए स्थापित किया गया है।
 इसका उद्देश्य लोगों को एक ही छत के नीचे सभी सेवाएं प्रदान करना है। सब कुछ ऑनलाइन किया जाएगा। बैठक में बताया गया कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ये योजनाएं एवं सेवाएं पांच सुविधाओं के साथ उपलब्ध हैं। जिनमें ऑनलाइन आवेदन, ऑनलाइन स्टेटस ट्रैकिंग, सक्रिय स्थिति एस एम एस, समीक्षा डैशबोर्ड और अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सूचना देना शामिल है।
 कुल 115 केंद्रों में से 79 केंद्र पहले से ही संचालित हैं और शेष केंद्र भी वर्ष के अंत तक तैयार हो जाएंगे। नागरिकों की सुविधा के लिए यह विश्वस्तरीय आधारभूत संरचना एवं प्रौद्योगिकी से लैस अत्याधुनिक केंद्र हैं। नागरिकों के सेवा वितरण अनुभव को और सुचारू बनाने के लिए कुछ उपायों को अपनाया गया है। इस दिशा में नागरिक ऑपरेटर के पारस्परिक प्रभाव को बढ़ाने के लिए ऑपरेटरों को सॉफ्ट कौशल प्रशिक्षण दिया गया और अंत्योदय भवन के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सरपंचों के साथ जागरूकता शिविरों का आयोजन किया गया।
 बैठक में बताया गया कि अंत्योदय सरल और हरपथ योजनाओं के प्रभावी कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए राज्य के सभी जिलों में डिजिटल हरियाणा कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला के दौरान 30 से अधिक केंद्रों का दौरा किया गया और 15 सौ से अधिक अधिकारियों के साथ बातचीत की गई।
निर्माण कार्य जल्द कराने के निर्देश 
शिव धाम नवीनीकरण योजना के तहत मुख्यमंत्री ने सभी शमशान घाटों एवं कब्रिस्तानों की चारदीवारी और फुटपाथ के निर्माण का कार्य तेज करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को इस काम को शीघ्र अति शीघ्र पूरा करने के लिए गैर सरकारी संगठनों और सामाजिक संगठनों की सहायता लेने के निर्देश दिए। उन्होंने इस कार्य में लोगों की भागीदारी और सीएसआर पहलों की सुनिश्चित करने का भी सुझाव दिया। हरियाणा रोडवेज में सकारात्मक बदलाव के लिए एक विस्तृत रोड मैप भी प्रस्तुत किया गया।
18 खंडों को सक्षम घोषित किया गया 
बैठक में सक्षम हरियाणा पर भी चर्चा की गई और यह बताया गया कि 4 दौरों के बाद 18 खंडों को सक्षम घोषित किया गया और 16 खंड सक्षम घोषित होने वाले हैं। वर्ष 2019 तक 80% बच्चों को हिंदी और गणित में ग्रेड स्तर की योग्यता पर लाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। 
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि कम विद्यार्थियों वाले सरकारी स्कूलों को पास के निजी स्कूलों में स्थानांतरित किया जाना चाहिए। यह प्रतिरोध को कम करेगा ।इस उद्देश्य के लिए एक श्रेणी स्तर का निर्धारण किया जाना चाहिए। बैठक में बताया कि ग्रामीण कार्य निगरानी प्रणाली के तहत जिला स्तर और राज्य स्तर पर तीन-तीन ग्राम पंचायतों को इस आसन पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।
 


बाकी समाचार