Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 19 दिसंबर 2018

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

रेवाड़ी रेप केस : अपनों ने ही भरोसे का किया कतल और किया गैंगरेप

गुरु शिष्य के रिश्तों को किया तार-तार.

rewari rape case, naya haryana, नया हरियाणा

15 सितंबर 2018

नया हरियाणा

किसी अपने ने ही किया भरोसा का कतल
रेवाड़ी में गैंग रेप की घटना ने सबका दिल दहला दिया है। और सबसे हैरानी की बात तो यह है कि इस घटना को अंजाम देने वाले पराए नहीं बल्कि अपने ही निकल रहे हैं। किसी अपने ने ही किया है भरोसे का कतल।
रेवाड़ी रेप केस में नया मोड आ गया है। जिन लोगों ने युवती के साथ गैंगरेप किया है। उनमें से एक पीडिता के परिवार का नजदीकी बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि उसका परिवार में आना जाना लगा रहता था और परिवार वाले भी उसे अपने परिवार का हिस्सा मानते थे। जिसका फायदा उठाकर उसने युवती को अपने साथ लिया और उसे कुछ खिला पिलाकर उसके साथ गैंगरेप करने में भूमिका निभाई। यह सेना में भर्ती हुआ युवक एक समय युवती के पिता का शागिर्द रह चुका था। उसने गुरु-शिष्य के रिश्ते को तार-तार कर दिया और विश्वास की डोरी को भी छलनी कर दिया।
जो पंकज नामक युवक सेना में बताया जा रहा है। उसका संबंध परिवार के साथ बताया जा रहा है। युवती के पिता खेल कूद के कोच बताए जा रहे हैं और लड़के के संबंध खेलकूद को लेकर ही कोच के साथ पारिवारिक संबंध बने हुए थे। जिसका लाभ उठाकर लड़के ने इस घटना को अंजाम दिया है। 
अपने का साथ पाकर साथ चलने को हो गई तैयार
पहली नजर में यह लग रहा था कि लड़की को किसी अनजान लोगों ने अगवाह करके गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है। परंतु जांच में पता चला है कि अपने का साथ पाकर ही युवती साथ चलने को तैयार हो गई। जिसके बाद उन दरिंदों ने युवती के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया।
रेवाड़ी रेप मामला :  तीनों आरोपियों की हुई पहचान, जल्द होगी गिरफ्तारी - डीजीपी, बी.एस संधू
रेवाड़ी जिले में सीबीएसई की स्टेट टॉपर युवती से हुए गैंगरेप के मामले में एसआईटी ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। टीम ने एक झोलाछाप डॉक्टर को हिरासत में लिया है। जिससे पूछताछ करने पर सनसनीखेज खुलासे हुए हैं। डॉक्टर ने पूछताछ के दौरान बताया कि आरोपियों ने उसे खेत में बुलाया था, जहां युवती को गंभीर हालत में पाया था। आरोपियों द्वारा धमकाए जाने पर उसने पीड़िता का इलाज किया। डॉक्टर ने बताया कि आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी थी। वहीं डॉक्टर की निशानदेही पर एसआईटी ने घटनास्थल का जायजा लेने पहुंची। फिलहाल मामले में जांच जारी है। सामने आए रेवाड़ी गैंगरेप के दरिंदों के चेहरे, पुलिस ने रखा है एक लाख का इनाम ।
महेंद्रगढ़ में 19 वर्षीय लड़की से सामूहिक दुष्कर्म मामले में रेवाड़ी पुलिस ने तीनों आरोपियों मनीष, नीशु और पंकज (सेना में कर्मचारी) है की तस्वीरें जारी की हैं। फिलहाल अब तक पुलिस मामले में एक भी आरोपी को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है।
गौरतलब है कि हरियाणा के रेवाड़ी में बोर्ड एग्जाम टॉपर के साथ गैंगरेप मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन हुआ है। इसी के साथ हरियाणा के नूह जिले की एसपी नाजनीन भसीन को 19 साल की टॉपर छात्रा के साथ दुष्कर्म की जांच सौंप दी गई है। वहीं 3 आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। एसपी ने पीड़िता से मुलाकात भी की।
उन्होंने कहा, 'पीड़िता की हालत स्थिर है। मुख्य आरोपी की पहचान की जा चुकी है। हम मामले की हर कोण से जांच करेंगे।' रेवाड़ी जिला अस्पताल में भर्ती पीड़िता की स्थिति पर मेडिकल सुपरिंटेंडेंट सुदर्शन पंवर ने कहा, 'पीड़िता की हालत स्थिर है और वह ट्रामा से धीरे-धीरे उबर रही है। उसका एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड कराया जा चुका है रिपोर्ट नॉर्मल है। हम लगातार उसकी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।' 

उधर राष्ट्रीय महिला आयोग ने हरियाणा के डीजीपी को पत्र लिखकर रेवाड़ी गैंगरेप की अपडेट मांगी हैं। युवती के साथ गैंगरेप बुधवार को हुआ जब कोचिंग सेंटर से घर लौट रही थी। उसी समय बस अड्डे से पंकज और मनीष नाम के दो युवकों ने युवती को लिफ्ट देने के बहाने अगवा कर लिया। 
चूंकि आरोपी युवती के गांव के ही रहने वाले थे इसलिए वह उन्हें जानती थी। आरोपी युवती को लिफ्ट देकर उसे एक सुनसान स्थान पर ले गए जहां उसे नशीला पेय पदार्थ पिलाकर उससे सामूहिक बलात्कार किया।
 


बाकी समाचार