Hindi Online Test Privacy Policy | About Us | Contact

नया हरियाणा

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019

पहला पन्‍ना English सर्वे लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

सरसों को कपास समझ बैठे भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला

बीजेपी हरियाणा के अधिकारिक पेज पर इस तरह की गलतियां आम बात हैं.

Cotton Rally, Manohar Lal, Barwala Hisar, BJP President Subhash Barla, naya haryana, नया हरियाणा

8 अगस्त 2018



नया हरियाणा

हरियाणा की भाजपा सरकार पर किसान विरोधी होने के आरोप लगते रहे हैं और किसानों हितों की अनदेखी के आरोप विपक्ष की तरफ से भी लगते रहे हैं. इन आरोपों में कितनी सच्चाई और कितनी झूठ है. यह किसानों से बेहतर कोई नहीं जानता.
आज हम बात करेंगे हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष सुभाष बराला की. जिनकी अध्यक्षता में हरियाणा बीजेपी का पेज चलाया जाता है. बीजेपी हरियाणा पेज पर सरकार के काम-काजों और योजनाओं को लेकर प्रचार-प्रसार किया जाता है.
सुभाष बराला खुद को किसान नेता कहते हैं. जबकि उनके सरंक्षण में चलने वाले पेज की एक रवानगी देखिए और समझिए कैसे-कैसे किसान नेता हरियाणा में पैदा हो गए हैं. जिन्हें कपास और सरसों के बीच फर्क भी नहीं पता है.
गौरतलब है कि 5 अगस्त 2018 को बरवाला, हिसार में कपास किसान धन्यवाद रैली का आयोजन होना था. जिसके लिए बीजेपी हरियाणा नामक पेज पर प्रचार प्रसार के लिए विज्ञापन लगाया था. जिसमें कपास की जगह सरसों की फोटो लगाई गई है.
हैरानी की बात है कि एक राज्य की सरकार चलाने पार्टी के अधिकारिक पेज इस तरह की गलतियां आम बात है. यह कोई नया कारनामा नहीं हैं.

<?= Cotton Rally, Manohar Lal, Barwala Hisar, BJP President Subhash Barla; ?>, naya haryana, नया हरियाणा

 गौरतलब है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि कपास बोने वाले किसानों को कपास की मूल्य कम से कम 5150 रुपये का प्रति क्विंटल भाव जरूर मिलेगा। मुख्यमंत्री ने बरवाला की कपास मंडी में आयोजित कपास-किसान धन्यवाद रैली में प्रदेश के किसानों के विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए की। महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में 2 लाख नए बीपीएल राशन कार्ड बनाए जाएंगे ताकि सरकारी योजनाओं का लाभ और अधिक लोगों तक पहुंचाया जा सके। उन्होंने बरवाला हलका को 110 करोड़ रुपये की सौगातें देते हुए रैली के संयोजक भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र पूनिया को मांगों की सूची में 20 करोड़ रुपये के अतिरिक्त कामों को जोडऩे का अधिकार दिया। इससे पूर्व उन्होंने बरवाला में 1 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले खेल स्टेडियम तथा 3 करोड़ 5 लाख रुपये की लागत से बनने वाले सामुदायिक भवन की आधारशिला रखी।

उन्होंने कहा कि जब किसान की आमदनी बढ़ेगी तो उसके साथ-साथ दुकानदारों, व्यापारियों व उद्योगपतियों का भी काम बढ़ेगा जिससे देश का समग्र विकास होगा। उन्होंने किसानों के हित में चलाई जा रही भावांतर भरपाई योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना सहित अन्य अनेक महत्वपूर्ण योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 6 जिलों के 2300 गांवों को 24 घंटे बिजली दी जा रही है बाकि जिलों को भी 15, 18 व 22 घंटे बिजली दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार ने विशेष प्रयास करके 13 प्रतिशत बिजली घाटा कम किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा को एसवाईएल के पानी का हक दिलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने भी अपनी मोहर लगा दी है और हरियाणा को उसके हिस्से का पानी मिलकर रहेगा, इस मामले में विपक्षी दलों को राजनीति करने की जरूरत नहीं है। पानी की कमी के बावजूद उपलब्ध जल का उचित प्रबंधन किया जा रहा है और सरकार द्वारा प्रदेश के भिवानी, हिसार दादरी, महेंद्रगढ़ व मेवात की 300 में से 293 टेलों पर 25 साल बाद पानी पहुंचाया गया है।


बाकी समाचार