Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

मंगलवार, 16 अक्टूबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हरियाणा में ऑटो रिक्शा पर लगेंगे मीटर : मनोहर लाल

ज्यादा पैसा वसूलने की शिकायतों की वजह से यह कदम उठाया गया है।

Manohar lal, naya haryana, नया हरियाणा

4 अगस्त 2018

नया हरियाणा

 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज घोषणा करते हुए कहा कि राज्य में चल रहे आटो रिक्शाओं पर फेयर मीटर लगेंगें ताकि लोगों के साथ किसी भी प्रकार की कोई धोखाधडी न हो। इसके अलावा,  मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि प्रदेश में अब प्लाट व मकान की रजिस्ट्री के साथ-साथ ही इंतकाल भी दर्ज किया जाएगा तो वहीं, सरकारी विभागों द्वारा भूमि की खरीद-फरोख्त के लिए भी रजिस्ट्री के साथ-साथ इंतकाल करवाने की जिम्मेदारी सरकारी विभाग की होगी। 

मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं आज गुरूग्राम में जिला लोक परिवाद समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए की। बैठक में हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह भी उपस्थित थे। 

जिला लोक परिवाद समिति की बैठक में मुख्यमंत्री ने आटो रिक्शाओं में फेयर मीटर नहीं लगे होने के संबंध में मिली शिकायतों का निपटारा करते हुए अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि राज्य में चल रहे आटो रिक्शाओं में फेयर मीटर लगाने के लिए परिवहन विभाग को एक प्रस्ताव बना कर भेजा जाए ताकि लोगों को किराए से संबंधित किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। उन्होंने कहा कि राज्य में चल रहे सभी रजिस्टर्ड आटो रिक्शाओं में फेयर मीटर लगाए जाएंगे। 

बैठक में मुख्यमंत्री ने  कहा कि आटो रिक्शााओं में सवारियों की क्षमता का भी ध्यान रखा जाए क्योंकि कुछ आटो रिक्शा चालक अपने आटो की क्षमता से ज्यादा सवारियों को ले जाते हैं। उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि यदि कोई आटो बिना पंजीकृत नंबर के चल रहा है तो उसको तुरंत इम्पाउंड किया जाए  तथा 18 साल से कम आयु का चालक आटो चलाते हुए पाया जाए, तो उस आटो को भी इम्पाउंड किया जाए। बैठक के दौरान पुलिस के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि पिछले एक साल कीे अवधि के दौरान 368467 चालान किए गए है, जिनमें से 2577 आटो को इम्पाउंड भी किया गया है। 

आज की जिला लोक परिवाद समिति की बैठक में मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए  िक अब किसी भी भूमि व प्लाट इत्यादि की रजिस्ट्री होने पर साथ-साथ ही उसका इंतकाल भी करवाया जाए ताकि किसी भी प्रकार की कोई धोखाधडी होने की कोई गुजाइंश ना रहे। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि यदि कहीं कोई भूमि अधिग्रहण की जाती है तो संबंधित विभाग की उस भूमि का इंतकाल करवाने की जिम्मेदारी होगी ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत व धोखाधडी न हो। इसी प्रकार, उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि किसी भी भूमि की रजिस्ट्री गलत तरीके या संबंधित दस्तावेजों की कमी के कारण की जाती है तो उसकी जिम्मेदारी संबंधित तहसीलदार की होगी। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में ढिलाई न बरतें।

मुख्यमंत्री ने आज की बैठक के दौरान हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा बसतपुर से कापडीवास, चंदू से गढी गोपालपुर में गत सितम्बर व अक्तुबर में बनाई गई सडकों में घटिया सामान  व सडकों के टूट जाने की शिकायत थी, जिस पर कार्यवाही करते हुए उन्होंने संबंधित एक्सईन को निलंबित करने के आदेश दिए। इस मामले में मुख्यमंत्री के तकनीकी सलाहकार, एसई क्वालिटी कंट्रोल व एक्सईन क्वालिटी कंट्रोल ने इन सडकों की जांच की थी जिसमें सामग्री की गे्रडेशन में कमियां पाई गई थी। इस बाबत इन सभी सडकों की आगामी तीन साल तक डिफेक्ट गारंटी संबंधित ठेेकेदारों की है और कुल लागत की 5 प्रतिशत बैंक गारंटी के अंतिरिक्त इन ठेकेदारों की 50 प्रतिशत प्रतिभूति राशि भी विभाग के पास जमा है और गे्रडेशन में कमियों की एवज में सबंधित ठेकेदार से 4.70 लाख रूपए की रिकवरी कर ली गई है। 

बैठक में नगर निगम की गांव चैमा में भूमि की अवैध बिक्री व मकानों के निर्माण के संबंध में रखी गई शिकायत पर मुख्यमंत्री ने शिकायतकर्ता को आश्वासन देते हुए कहा कि अतिक्रमित भूमि को छुडाया जाएगा। उन्होंने कहा  िकइस मामले में यदि कोई दोषी इंगित होगा तो कार्यवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री ने इस भूमि के मामले पर शहरी स्थानीय निकाय विभाग के निदेशक की अगुवाई में तीन सदस्यों की एक समिति गठित करने के आदेश दिए, जो इसका निर्णय कर अपनी रिपोर्ट देगी। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि शिकायकर्ता द्वारा दिए गए 10 लाख रूपए के चैक को भी वापिस कर दिया जाए। 

एक अन्य शिकायत जिसमें गांव भोडा-कलां की भूमि पर अवैध तरीके से कालोनी बनाकर प्लाट काटने की शिकायत दी गई थी, जिस पर संबंधित अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया  िकइस मामले में दो बार तोडफोड की गई है। जिला के ऐसे गांव जहां पर अवैध विकसित होने की संभावना है, उन गांवों की सूची भेजते हुए उनमें हरियाणा शहरी क्षेत्र के विकास एवं विनियमन अधिनियम, 1975 की धारा 7ए के तहत अधिसूचना करवाने के लिए विभाग के निदेशक को आग्रह किया गया है। उसके बाद इन गांवों में भी रजिस्ट्री के लिए एनओसी की आवश्यकता होगी। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि भविष्य में 7ए की अधिसूचना के तहत एनओसी लेकर ही रजिस्ट्री करवाई जाए। 

बैठक के दौरान सैक्टर 29 के लेजर वैली पार्क, जिसका नया नाम महाराणा प्रताप स्वर्ण जयंती पार्क रखा गया है, के रखरखाव के संबंध में मिली शिकायत का निपटारा करते हुए मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को आदेश दिए  िकवे स्वयं शिकायतकर्ता के साथ जाकर पार्क का मुआयना करें ताकि शिकायतकर्ता संतुष्ट हो सके। इसी प्रकार, स्ट्रीट वैंण्डर्स से संबंधित शिकायत को सुनते हुए मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस मामले को निपटाने के लिए एक सप्ताह के भीतर स्ट्रीट वेंण्डर्स कमेटी की बैठक बुलाई जाए और सुझावों के तहत नीतिगत फैसले लिए जाए। इसी प्रकार, एक अन्य शिकायत, जो पालम विहार कालोनी से संबंधित थी, जिसमें कम्यूनिटी साइट को कालेानीवासियों के लिए इस्तेमाल न करके किसी और को देने के बात कहीं गई थी, में मुख्यमंत्री ने विजीलेंस जांच के आदेश दिए है। 

बाक्स

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज घोषणा की कि जिस वृद्ध व्यक्ति के पास उसकी आयु प्रमाणित करने के लिए कोई भी दस्तावेज नहीं हैं और वह स्वयं को पेंशन का हकदार मानता है तो ऐसे व्यक्तियों की आयु को मैडीकल बोर्ड द्वारा प्रमाणित किया जाएगा। 

आज की बैठक में ऐसा ही एक मामला रखा गया था, जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया  िकवह राज मिस्त्री का काम करता था अब उसके हाथ खराब होने के कारण तथा वृद्ध अवस्था के चलते वह काम नहीं कर सकता हैं। उसके पास अपनी आयु प्रमाणित करने के लिए कोई दस्तावेज नहीं हैं। जिला समाज कल्याण अधिकारी ने बैठक में बताया कि यदि किसी व्यक्ति के पास उसकी आयु का प्रमाण नहीं है तो विवाहित व्यक्ति के मामले में उसके बच्चों की आयु को आधार बनाया जाता है और अविवाहित व्यक्ति के मामले में ही मैडीकल बोर्ड से राय ली जाती है। मुख्यमंत्री ने मौके पर आदेश दिए कि विवाहित व्यक्तियों के मामले में भी मैडीकल बोर्ड की राय लेकर पेंशन दी जाए। 

बैठक में कुल 24 शिकायतें रखी गई जिनमें से अधिकांश का निपटारा कर दिया गया है तथा कुछ को अगली बैठक में रिपोर्ट सहित प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है। 

इस अवसर पर हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह, गुरूग्राम के विधायक उमेश अग्रवाल, सोहना के विधायक तेजपाल तंवर, पटौदी की विधायक बिमला चैधरी, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य, हाऊसिंग बोर्ड के चेयरमैन जवाहर यादव, जिला परिषद अध्यक्ष कल्याण सिंह चैहान, मेयर मधु आजाद, भाजपा जिला अध्यक्ष भूपेन्द्र चैहान, हरियाणा डेयरी विकास प्रसंघ के चेयरमैन जीएल शर्मा, भाजपा के प्रवक्ता रमन मलिक, उपायुक्त विनय प्रताप सिंह सहित अन्य अधिकारी व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। 

 


बाकी समाचार