Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 21 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

EVM मशीन पर चुनाव नहीं होने चाहिए : अभय सिंह चौटाला

ईवीएम को लेकर विपक्षी दलों द्वारा संशय पैदा किया जा रहा है.

EVM, Abhay Singh Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

3 अगस्त 2018

नया हरियाणा

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के चुनावों में प्रयोग के मुद्दे को लेकर हरियाणा में विपक्ष के नेता चौधरी अभय सिंह चौटाला ने सभी विरोधी दलों का एक मंच पर एकत्रित होकर इसके विरोध करने के निर्णय का स्वागत किया है।
चौधरी अभय सिंह चौटाला ने कहा कि एक लम्बे समय से इनेलो का यह कथन रहा है कि इलेक्ट्रॉनिक मशीन का बटन दबाकर चुनाव की प्रक्रिया को रद्द किया जाना चाहिए क्योंकि इसकी निष्पक्षता पर अनेक राजनैतिक दलों की आस्था नहीं है और न ही यह माना जा सकता है कि इसके साथ छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। उन्होंने मांग की कि अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनावों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों का प्रयोग बंद किया जाए और उसके स्थान पर कागज के मतों के प्रयोग की पुरानी परम्परा को पुन: बहाल किया जाए। अब इनेलो को इस बात का संतोष है कि देश के अन्य  विपक्षी दल भी इनेलो के इस विचार से सहमत हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव में निष्पक्षता चुनावों की आत्मा है और यह प्रजातंत्र को जिंदा रखने के लिए अति आवश्यक है। यदि प्रयोग में लाई जाने वाली प्रणाली में राजनैतिक दलों की आस्था नहीं रह जाती तो चुनाव आयोग का यह कर्तव्य है कि पुन: उस प्रणाली का प्रयोग किया जाए जिसका प्रयोग इससे पहले किया जाता था।
इनेलो ने कहा कि अब जबकि ईवीएम मशीनें संदेह के दायरे में हैं तो वीवीपीएटी अर्थात वोटर वैरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल भी अर्थहीन होने के साथ-साथ उसकी उपयोगिता भी समाप्त हो जाती है। उसके प्रयोग से ईवीएम प्रणाली की सूचिता बहाल नहीं होती। उन्होंने यह भी याद दिलाया कि संसार का कोई भी प्रसिद्ध प्रजातांत्रिक देश इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का प्रयोग नहीं करता और वे आज भी कागज के मतपत्रों पर ही निर्भर करते हैं। हालांकि सामान्य जीवन में टेक्रोलॉजी का प्रयोग वे हमसे अधिक करते हैं।
इसलिए नेता विपक्ष ने कहा कि इनेलो की मांग है कि अगले लोकसभा चुनावों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग प्रणाली का प्रयोग न हो और कागज के मतपत्रों द्वारा ही मतदान करवाया जाए। इस मुद्दे पर इनेलो अन्य दलों के साथ साझा मत रखती है।


बाकी समाचार