Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

शुक्रवार, 16 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

हरियाणा में बाढ़ ग्रसित क्षेत्रों में विशेष गिरदावरी करवाकर जल्द देंगे मुआवजा : मनोहर लाल

यमुना के साथ लगते क्षेत्रों में इन दिनों बाढ़ के कारण काफी फसलें पानी में डूब गई हैं.

Special compensation,  flood affected areas in Haryana, Manohar Lal, घरौंडा, धान किसान रैली, naya haryana, नया हरियाणा

30 जुलाई 2018

नया हरियाणा

पहाड़ी इलाकों में भारी बरसात के मद्देनजर हथिनीकुंड बैराज से यमुना में छोड़े गए करीब पांच लाख क्यूसिक पानी की सूचना के बाद खादर के इलाके में हाईअलर्ट कर दिया गया है। घरौंडा इलाके के यमुना से सटे गांव में बाढ़ की आशंका को लेकर ग्रामीण भयभीत है। लिहाजा ग्राम पंचायतों की ओर से ठीकरी पहरे लगा दिए गए है। लालुपुरा से मुंडोगढ़ी तक यमुना की पटरी का मुआयना किया तो सामने आया कि बाढ़ से निपटने के लिए किसी भी तरह के कोई खास इंतजाम प्रशासन की ओर से नहीं किए गए हैं। चाहे प्रशासन बाढ़ से निपटने के लाख दावे करें।

लालुपुरा गांव के सरपंच विकास रावल ने बताया कि यमुना में पहले ही पानी की तादाद ज्यादा है। ऐसे में करीब पांच लाख क्यूसिक पानी से पूरा गांव सहमा हुआ है और बाढ़ आने की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता। पटरी की हालत काफी जर्जर है। यही हालात कमावेश सदरपुर व मुंडोगढ़ी इलाके के भी है। यमुना में छोड़े गए पानी से अब तक इलाके के विभिन्न गांवो में सैकड़ो एकड़ फसल बाढ़ की भेंट चढ़ चुकी है। नदी में जलस्तर बढ़ने से अब गांवो के अंदर पानी घुसने का खतरा मंडरा रहा है .

यमुनानगर और इंद्री में यमुना के पानी से हुई तबाही को भांपते हुए सिंचाई विभाग की टीम हरकत में आ चुकी है . सिंचाई विभाग के एसडीओ विक्रम के अनुसार यह टीम रात भर यमुना के आस पास बनी पटरी पर कार्य करेगी। सुबह छह बजे शिफ्ट की बदली होगी और करीब सवा सौ मजदूर दिन का काम संभालेंगे। उन्होंने बताया कि अभी तक स्थिति नियंत्रण में है। अहतियात के तौर पर गांव में अलर्ट जारी कर दिया गया है और स्वयं वे निगरानी रखे हुए है। 

घरौंडा की धान किसान रैली में मुख्यमंत्री मनोहर लाल, कृषिमंत्री ओमप्रकाश धनखड़ और घरौंडा के विधायक हरविंद्र कल्याण ने घरौंडा की अनाज मंडी में शिरकत की. यह रैली धान के एमएसपी 200रु बढ़ाए जाने पर प्रधानमंत्री मोदी का आभार व्यक्त करने के लिए आयोजित की गई थी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हथिनी कुंड बैराज  और यमुना नदी से प्रभावित जल ग्रहण क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने सर्वेक्षण के बाद ऐलान किया कि यमुनानगर से लेकर इंद्री तक जो भी गांव बाढ़ से प्रभावित होगा। वहां की विशेष रूप से गिरदावरी करवाकर किसान को जल्द से जल्द मुआवजा दिया जाएगा। ताकि किसानों के नुकसान की भरपाई की जा सके।


बाकी समाचार