Privacy Policy | About Us | Contact Us

नया हरियाणा

बुधवार, 21 नवंबर 2018

पहला पन्‍ना English लोकप्रिय हरियाणा चुनाव राजनीति अपना हरियाणा देश शख्सियत वीडियो आपकी बात सोशल मीडिया मनोरंजन गपशप

जासपुर बूचड़खाना : विधायक को छोड़ना मत जब तक बंद नहीं होता : अभय सिंह चौटाला

खंड रायपुररानी के जासपुर में बूचड़खाना भाजपा के लिए संकट बनता नजर जा रहा है।

Jaspur Boochadkhana, Panchkula, raipur rani,  Abhay Singh Chautala, naya haryana, नया हरियाणा

27 जुलाई 2018

नया हरियाणा

बूचड़खाना के विरोध में  आमरण अनशन पर बैठे दो व्यक्तियों की तबियत बिगड़ रही है। जासपुर बूचड़खाना के विरोध में चल रहा अनिश्चितकालीन धरना  आजतीसरे दिन में पहुंच गया है। लेकिन अनशनस्थल पर एसडीएम पंचकूला के इलावा कोई अधिकारी नहीं पहुंचा है। आज अनशनकारियों में से दो अनशनकारियों रमेश राणा व रमेश प्रधान की तबियत ज्यादा बिगड़ गयी है।
जिस पर रायपुर रानी हॉस्पिटल से आये डॉक्टरों ने उनका चेकअप किया और उनको हॉस्पिटल में दाखिल करने की सलाह दी लेकिन उन्होंने जाने से मना कर दिया।  अनशनकारियो ने कहा कि जब तक बूचड़खाना बन्द नहीं हो जाता तब तक अनशन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि पांचो अनशनकारियों ने अपनी जान की बाजी लगा दी है और वे किसी भी कीमत पर झुकने वाले नहीं है।  उन्होंने कहा की वे अपनी आनेवाली पीढ़ियों की लड़ाई लड़ रहे हैं। बूचड़खाना लग जाने से आनेवाली पीढ़ियां उन्हें माफ नहीं करेंगी, इसलिए वे इस लड़ाई को मरते दम तक लड़ेंगें। 
जिला परिषद सदस्य फोम लाल ने कहा कि उनको अपनी जायज मांग को लेकर भी अनशन करना पड़ रहा है लेकिन इसके बावजूद भी इस गूंगी बहरी सरकार के कान पर जूं नहीं रेंग रही है। गाय के प्रति अगाध प्रेम दिखाने वाली भाजपा सरकार पहले की सरकारों की तुलना में बूचड़खानों से ज्यादा परमिशन दे रही है।
नेता विपक्ष अभय सिंह ने भी अनशनकारियों को समर्थन देते हुए कहा था कि अगर भाजपा का विधायक यहां आए तो उसे पकड़ कर बैठा लेना और जब तक लिखित रूप में बूचड़खाने को बंद नहीं कर देता, तब तक छोड़ना मत. 

जासपुर का बूचड़खाना बना राजनीति का अखाड़ा
खंड रायपुररानी के जासपुर में बूचड़खाना भाजपा के लिए संकट बनता नजर जा रहा है। इस बूचड़खाने को लेकर लगातार राजनीति गरमाती जा रही है। विपक्षी दल भाजपा को घेरने में जुटे हुए हैं और भाजपा अपनी साख बचाने में लगा है। स्थानीय विधायक लतिका शर्मा के खिलाफ लगातार लोगों में रोष बढ़ रहा है। लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र में किसी भी हालत में बूचड़खाना नहीं चलने दिया जाएगा।

इस मामले में कुछ लोगों पर केस भी दर्ज हो चुका है, लेकिन बूचड़खाने के खिलाफ ग्रामीणों का प्रदर्श जारी है। कुरूक्षेत्र के सासद राजकुमार सैनी भी इस बूचड़खाने के खिलाफ ग्रामीणों को समर्थ दे चुके हैं। इसके अलावा पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी, काग्रेस के वरिष्ठ नेता विजय बंसल, मनवीर कौर गिल एवं स्थानीय नेता लगातार ग्रामीणों के साथ हैं। कालका की विधायक लतिका शर्मा भी ग्रामीणों के पास जा चुकी है, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। इस मामले को लेकर हरियाणा प्रदेश के भाजपा के अध्यक्ष सुभाष बराला को उनके निवास स्थान चंडीगढ़ में पंचकूला के विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञान चन्द गुप्ता, कालका की विधायक लतिका शर्मा व जिला भाजपा के प्रधान दीपक शर्मा मिले। उन्होंने जिले के अन्तगर्त पड़ने वाले गाव जासपुर में बूचड़खाना ना खोलने के बारे में विस्तार से उन्हें जानकारी दी।


बाकी समाचार